ये प्यार ही होगा…

ये प्यार ही होगा
वरना, किसी का इतना इंतज़ार
हम नही करते

ये इश्क़ ही होगा
वरना ऐसी बेवकूफों वाली हरकत
हम नही पटकते |

love in madly

वो तो तुम्हे देख के
हम होश खो बैठते है
और तुम्हारी मुस्कराहट को देख के
दीवाने हो उठते है |

वैसे समझ तो हम में
ज़माने भर की है
और अकड़ तो हम में
ज़रूरत से ज़्यादा भरी है

पर तुम्हे देख के
सारी अकड़ भूल जाती है
और तुमपे रौब जमाने के चक्कर में
सारी समझ निकल आती है |

ये प्यार ही होगा
वरना तुम हमारे दिलो दिम्माग पे
यु छाए ना होते

ये इश्क़ ही होगा
वरना तुम्हारे नाम के इस दिल में
अफ़साने ना होते

ये प्यार ही होगा
या फिर शायद हम पागल हो रहे है |
पर सुना है,
पागल होने को ही लोग आजकल
प्यार कह रहे है |

Advertisements

3 thoughts on “ये प्यार ही होगा…

    • I am very bad at translation… Also, it will ruin the beauty of the poem… as the rhyme isn’t there 😛
      It is something on the lines of,

      “This must be love that I am feeling,
      or I wouldn’t wait for you
      This must be love that I am feeling
      Or I don’t generally behave like a dumbass
      .
      .
      .
      .
      This must be love
      Or maybe I am just going crazy
      But going crazy is, according to some,
      Equivalent to being in love”

      Thanks for the comment, though. 🙂

Whatever you feel about the blog, I would be happy to hear!

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s