Astounding yes

There is no point in committing
To a love which is a maybe.
No logic in giving your all
For a love that’s just a possibility.

You can wait for them
To realize it for themselves;
Or you can walk away
If waiting doesn’t make sense.

But you can never force someone
To fall in love with you;
Or convince them,
If they don’t already do.

‘Cause the thing with love
I have realized, is that-
You can’t convince someone,
If they don’t feel it in their heart.

Some questions like ‘Do you love me?’
Only have two answers.
And it’s a no;
If it’s not an astounding yes.

Advertisements

क्या होता…

सोच रहे है,
तुम और हम साथ होते
तो ज़िन्दगी का ठिकाना क्या होता.

प्यार में तुम भी, लाचार होते
तो दिल का फ़साना क्या होता.

केह देते गर हम अपने दिल कि बात,
तो जुर्माना क्या होता.

याद तो तुम्हे कर लेते
पर सोच रहे है, बहाना क्या होता.

tumblr_mjc6jrlfQe1s7enmvo1_500

सोच रहे है,
तुम और हम साथ होते
तो इस चांदनी रात का नज़ारा क्या होता.

प्यार में हमारे, तुम क़ुर्बान होते
तो इस दिल कि खुशियो का किनारा क्या होता.

गर गर्दिश में न होते, हमारे नसीब के सितारे
तो जवाब तुम्हारा क्या होता.

पर जब किसी का नहीं हुआ
तो ये वक़्त हमारा क्या होता.